Diwali Bonus : कहां लगाएं दिवाली बोनस का पैसा लोन चुकाएं या निवेश करें क्‍या कहते हैं एक्‍सपर्ट

दिवाली का त्‍योहार बीत गया और आपको मिला बोनस भी अब तक या तो खर्च हो गया होगा या फिर आप उसे सही जगह लगाने की तैयारी कर रहे होंगे. लाखों निवेशकों की तरह आपके मन में भी यह सवाल होगा कि इन पैसों को एफडी या शेयर बाजार डालकर मुनाफा कमाया जाए या फिर लोन का जल्‍द भुगतान कर ब्‍याज से बचा जाए. इसी दुविधा को हम एक्‍सपर्ट के सुझाव से दूर करने की कोशिश कर रहे हैं.

Diwali Bonus : कहां लगाएं दिवाली बोनस का पैसा लोन चुकाएं या निवेश करें क्‍या कहते हैं एक्‍सपर्ट
हाइलाइट्सएफडी पर अभी ब्‍याज दर काफी कम है, जो 7 फीसदी के आसपास रहती है.आप चाहें तो सिप के जरिये निवेश की प्‍लानिंग कर सकते हैं.अगर आप इन पैसों से कर्ज चुकाने की सोच रहे हैं तो यह ज्‍यादा बढि़या विकल्‍प हो सकता है. नई दिवाली. दीपावली का त्‍योहार भी देखते-देखते निकल गया. इस बार दिवाली का बोनस अगर आपने त्‍योहारों पर खर्च नहीं किया है और इसे सही जगह लगाने की तलाश में हैं तो हम बता रहे आपके लिए कौन सा विकल्‍प क्‍यों सही है. कई लोग दिवाली बोनस को निवेश करने की सोच रहे होंगे तो कुछ लोग इससे लोन का भुगतान करना चाहेंगे. इस बारे में हमने एक्‍सपर्ट से बात की तो दोनों की विकल्‍पों की सही तस्‍वीर निकलकर सामने आई. निवेश सलाहकार बलवंत जैन का कहना है कि अगर आप अपने बोनस के पैसे को एफडी या म्‍यूचुअल फंड में लगाते हैं तो इस पर लंबी अवधि में ठीक ठाक रिटर्न मिल सकता है. हालांकि, एफडी पर अभी ब्‍याज दर काफी कम है, जो 7 फीसदी के आसपास रहती है. म्‍यूचुअल फंड में भी आपको ज्‍यादा पैसा लगाना होगा, ताकि इसका लाभ भी अधिक हो सके. आप चाहें तो सिप के जरिये निवेश की प्‍लानिंग कर सकते हैं. यह विकल्‍प आपको लंबी अवधि में बड़ा मुनाफा देगा. अगर शेयर बाजार के जानकार हैं तो आप बोनस का पैसा इक्विटी में भी लगा सकते हैं. यहां जोखिम तो होगा लेकिन दांव सही रहा तो आप तगड़ा मुनाफा भी कमा सकेंगे. हां, अगर आप इन पैसों से कर्ज चुकाने की सोच रहे हैं तो यह ज्‍यादा बढि़या विकल्‍प हो सकता है. ये भी पढ़ें – दिसंबर में आएगा कमाई का मौका! भारत बॉन्ड ईटीएफ हो सकता है लॉन्च, जानें डिटेल बढ़ती ब्‍याज दरों के बीच घटाएं कर्ज का बोझ महंगाई को थामने के लिए रिजर्व बैंक लगातार रेपो रेट में वृद्धि कर रहा है और इसी अनुपात में आपके कर्ज की ब्‍याज दरें भी बढ़ती जा रही हैं. ऐसे में जरूरी है कि आप जितना हो सके अपनी ईएमआई का बोझ घटाएं. अगर आपको कर्ज का प्री-पेमेंट करना है तो सबसे पहले ऐसे लोन में पैसे डालें जिन पर ब्‍याज दरें ज्‍यादा हों. क्रेडिट कार्ड और पर्सनल लोन पर बैंक ज्‍यादा ब्‍याज वसूलते हैं और आप इन कर्ज को चुका दें या प्री-पेमेंट कर दें तो ईएमआई का बोझ काफी कम हो जाएगा. होम लोन का प्री-पेमेंट सबसे कारगर अगर आपने होम लोन ले रखा है तो अपने दिवाली बोनस के पैसों से इसका सेटलमेंट करा दें या फिर लोन का प्री-पेमेंट कर दें. इस छोटे से कदम से आपको भविष्‍य में बड़ा लाभ मिल सकता है. दरअसल, होम लोन लंबी अवधि का कर्ज होता है और इसके प्रिंसिपल अमाउंट में थोड़ी भी कमी आने पर लंबे समय में बड़ा लाभ उठाया जा सकता है. होम लोन में दो पार्ट होते हैं प्रिंसिपल अमाउंट और इंटेरेस्‍ट रेट. जब आप लोन का प्री-पेमेंट करते हैं तो यह राशि आपकी रेगुलर ईएमआई से ज्‍यादा होती है और इसे आपके प्रिंसिपल अमाउंट में डाल दिया जाता है. यानी आपका प्रिंसिपल अमाउंट घट जाता है. चूंकि, ब्‍याज प्रिंसिपल अमाउंट पर वसूला जाता है, इसलिए आपकी ईएमआई में जुड़ने वाले ब्‍याज में भी कमी आ जाती है. इस तरह, लोन का प्री-पेमेंट करके आप न सिर्फ कम ईएमआई का भुगतान करेंगे, बल्कि आपका लोन भी जल्‍द चुकता हो जाएगा. ऐसे में समझें बचत का गणित आपको बोनस का पैसा एकमुश्‍त मिला है तो उसे चाहें तो एकमुश्‍त निवेश कर सकते हैं. या फिर इस पैसे को लिक्विड फंड में रख दें जहां आपको सेविंग अकाउंट से ज्‍यादा ब्‍याज भी मिलेगा और जब चाहे इसे निकाल भी सकेंगे. ऐसे में अगर आप हर महीने अपनी ईएमआई से इतर होम लोन पर 2,000 रुपये का भी अतिरिक्‍त भुगतान करते हैं तो लंबे समय में बड़ी बचत हो सकती है. ये भी पढ़ें -क्या होता है ड्राई शैम्पू, जिसे यूनिलीवर ने कैंसर का कारण बनने की आशंका के बीच वापस मंगाया मान लीजिए, आपने 20 लाख रुपये का लोन 9.5 फीसदी ब्‍याज पर 20 साल के लिए लिया है, जिसकी ईएमआई 18,643 रुपये जाती है. ऐसे में लोन के भुगतान तक आप ब्‍याज के रूप में कुल 24,74,320 रुपये का भुगतान करेंगे, लेकिन अगर आप हर महीने 2,000 रुपये का ज्‍यादा भुगतान करते हैं तो लोन के पूरे टेन्‍योर में आप 55 ईएमआई बचा लेंगे. इसका मतलब हुआ कि आपको 6,60,585 रुपये की बचत हो जाएगी. ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें jharkhabar.com हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट jharkhabar.com हिंदी| Tags: Business news in hindi, Diwali, Home loan EMI, Interest rate of banksFIRST PUBLISHED : October 26, 2022, 09:28 IST
Note - Except for the headline, this story has not been edited by Jhar Khabar staff and is published from a syndicated feed